नारों में भारत कैशलेस, मुख्यालय में सिर्फ़ कैश

0
306

केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार के साथ-साथ भाजपा के तमाम नेता डिजिटल पेमेंट या कैशलेस ट्रांजेक्शन को बढ़ावा देने में जुटे हैं. देशभर में घूम-घूमकर कैशलेस लेन-देन के फ़ायदे गिना रहे हैं.

लेकिन राष्ट्रीय सहारा की एक ख़बर के मुताबिक़, “भाजपा मुख्यालय स्थित विक्रय केन्द्र में अब तक डिजिटल पेमेंट की कोई व्यवस्था नहीं हो पाई है. वहां से खरीदी जाने वाले पत्र-पत्रिकाओं के लिए नगद ही भुगतान करना पड़ता है.

लाभ-हानि रहित’ के आधार पर चल रहे इस विक्रय केन्द्र का अपना कोई खाता ही नहीं है. इस विक्रय केन्द्र का संचालन पार्टी फंड से किया जाता है और यहां से प्राप्त होने वाली राशि पार्टी फंड में ही चली जाती है.

अख़बार के मुताबिक़ नौ और 11 साल की इन बहनों में से बड़ी बेटी का उनके सौतेले पिता यौन शोषण करते थे और छोटी बेटी को मारते थे. जब किसी रिश्तेदार से मदद नहीं मिली तो इन बच्चियों ने दीवार पर संदेश लिखे जिसे एक राहगीर ने देखा. फिर एक स्थानीय एनजीओ और पुलिस की मदद से बच्चियों का बचाया गया.

loading...